सूरजपुर नगरपालिका क्षेत्र में इन दिनों बंदरो के आतंक से वार्डवासी परेशान है,, जहा आज वार्ड क्रमांक 5 में अचानक बंदरो के झुंड ने घरों पर दस्तक देकर उत्पात मचाते नजर आए,, ऐसे में वार्डवासियों का कहना है कि रोजाना बंदरो का झुंड वार्डो में पहुच नुकसान पहुचाते है, जहा कई बार शिकायत के बाद भी बंदरो के भोजन पानी की जंगलो में कोई व्यवस्था नही किया जाता ,नतीजा बंदरो जा झुंड वार्डो में पहुच उत्पात मचाते है,, ऐसे में छोटे बच्चों के लिए खतरा रहता है ,,

0
Spread the love

सूरजपुर नगरपालिका क्षेत्र में इन दिनों बंदरो के आतंक से वार्डवासी परेशान है,, जहा आज वार्ड क्रमांक 5 में अचानक बंदरो के झुंड ने घरों पर दस्तक देकर उत्पात मचाते नजर आए,, ऐसे में वार्डवासियों का कहना है कि रोजाना बंदरो का झुंड वार्डो में पहुच नुकसान पहुचाते है, जहा कई बार शिकायत के बाद भी बंदरो के भोजन पानी की जंगलो में कोई व्यवस्था नही किया जाता ,नतीजा बंदरो जा झुंड वार्डो में पहुच उत्पात मचाते है,, ऐसे में छोटे बच्चों के लिए खतरा रहता है ,,

वार्ड वासी एचडी खान ने बताया कि सूरजपुर में बंदरों का आतंक जारी है पिछले कई महीनों से सूरजपुर नगर पालिका क्षेत्र में बंदर आतंक मचा रहे हैं घरों के कपड़े एवं सीट को तोड़ दे रहे हैं और छत पर टंगे हुए कपड़ों को बर्बाद कर दे रहे हैं वही इन बंदरों से छोटे बच्चों को भी खतरा बना रहता है कई बार बच्चों को भी घायल कर चुके हैं कई बार नगर पालिका एवं वन विभाग को इन बंदरों की सूचना दी गई लेकिन केवल विभाग द्वारा आश्वासन ही दिया जाता है लेकिन वार्ड वासियों को इन बंदरों से निजात नहीं मिल पा रही है वही जब हमने वन विभाग के अधिकारी से इस बारे में जाननी चाही तो विभाग के अधिकारी फोन नहीं उठा रहे हैं एक ओर जहां सूरजपुर जिला हाथियों के आतंक से पहले से ही परेशान था अब सूरजपुर नगर पालिका में यह बंदर उत्पात मचाकर नगर वासियों का जीना दुश्वार कर दिए हैं अब देखने वाली बात होगी कि कब तक इन अधिकारियों की नींद खुलती है और कब तक इन बंदरों से नगर वासियों को निजात मिलती है

कारण है बंदरों का शहर में आने का

आपको बता दें कि अब जहां जंगलों की कटाई अवैध रूप से हो रही है और छत्तीसगढ़ शासन भी जिस तरह से 1 पट्टा बांट रहा है जिसके कारण वनों की कटाई हो रही है वही अब जंगली जानवरों को जंगल में पानी और खाने की कमी हो रही है जिसके कारण अब जंगली जानवर शहर की ओर रुख कर रहे हैं और खाने की तलाश में बंदर घरों में घुसकर लोगों के समान चट कर जा रहे हैं

बाइट-1- एस डी खान,, स्थानीय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

slot depo 10k
slot qris
slot spadegaming
slot pg soft
habanero slot
cq9 slot
slot garansi kekalahan bebas ip