सूरजपुर में 33वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का पुलिस अधीक्षक ने किया शुभारंभ।* *हरी डण्डी दिखाकर यातायात जागरूकता रथ किया रवाना।* *लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने पूरे सप्ताह होंगे विविध आयोजन।*

0
Spread the love

*सूरजपुर में 33वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का पुलिस अधीक्षक ने किया शुभारंभ।*
*हरी डण्डी दिखाकर यातायात जागरूकता रथ किया रवाना।*
*लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने पूरे सप्ताह होंगे विविध आयोजन।*

*सूरजपुर न्यूज़ 29……* 33वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत् आमजनों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने, दो पहिया वाहन चालकों को अनिवार्य रूप से हेलमेट पहनने हेतु प्रेरित करने, दुर्घटना से बचाव के उपाय से लोगों को अवगत कराने, यातायात नियमों की जानकारी सहित यातायात संबंधी विविध आयोजन सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान सूरजपुर पुलिस के द्वारा की जाएगी। सूरजपुर में 33वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ बुधवार, 11 जनवरी 2023 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर रामकृष्ण साहू (भा.पु.से.) के द्वारा किया गया।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू (भा.पु.से.) ने कहा कि 33वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह 11 से 17 जनवरी 2023 तक मनाया जाएगा। जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों को सावधानी के साथ सड़क नियमों का पालन करने के लिए जागृत करना और उनके जीवन को सुरक्षित करना है, जिले की पुलिस पूरे सप्ताह सड़क सुरक्षा से संबंधित कई कार्यक्रम आयोजित करके, लोगों को सड़क पर सावधानीपूर्वक वाहन चलाने के लिए प्रोत्साहित करेगी। भारत में प्रत्येक वर्ष जनवरी माह में सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जाता है जिसका मुख्य उद्धेश्य सड़क दुर्घटनाओं को रोकना एवं लोगों में यातायात नियमों के प्रति जागरूक करना है।
उन्होंने कहा कि आमजन यातायात नियमों का पालन करें ताकि दुर्घटना से बचा जा सके, बाईक चलाते समय हेलमेट का उपयोग अवश्य करें, हेलमेट का उपयोग नहीं करने से दुर्घटना के समय सिर में चोट लगने से व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है इससे बचाव के लिए हेलमेट धारण किया जाना आवश्यक है क्योंकि हमारी सुरक्षा से पूरे परिवार की सुरक्षा भी जुड़ी होती है। सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार नहीं मिलने के कारण उसकी मृत्यु हो जाती है इस हेतु आमजनों को घायल व्यक्ति को तुरंत निकटतम अस्पताल ले जाने के लिए प्रोत्साहित किया।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सूरजपुर जिले में वर्ष 2021 में 401 दुर्घटनाओं के मामलों में 249 लोगों की मृत्यु हुई और 323 व्यक्ति घायल हुए। वर्ष 2022 में 357 दुर्घटनाओं में 225 लोगों की मृत्यु हुई और 303 व्यक्ति घायल हुए है जो वर्ष 2021 की तुलना में वर्ष 2022 में दुर्घटना में कमी आई है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सुरक्षित सफर के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है लोगों का नियमों के प्रति जागरूक होना और उनका महत्व समझकर उन्हें अपने जीवन में अपनाना। जिले में सड़क दुर्घटनाओं में घायलों को तत्काल सहायता पहुंचाने के लिए हाईवे पेट्रोलिंग की टीम 24 घंटे मुस्तैदी से कार्य कर रही है। दुर्घटनाओं को रोकने की दिशा में शराब पीकर वाहन चलाने वालों के विरूद्व लगातार धारा 185 की कार्यवाही जारी है और लापरवाही पूर्वक वाहन चलाकर एक्सीडेंट करने वालों के लायसेंस भी निलंबित कराई जा रही
*यातायात जागरूकता रथ को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना।*
लोगों को सावधानी के साथ सड़क नियमों का पालन करने के लिए जागरूक करने व सड़क पर सावधानीपूर्वक वाहन चलाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए यातायात जागरूकता रथ को पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू (भा.पु.से.), एसडीओपी सूरजपुर प्रकाश सोनी ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
इस दौरान डीएसपी मुख्यालय नंदिनी ठाकुर, डीएसपी रामश्रृंगार यादव, जिला परिवहन अधिकारी अमित कश्यप, थाना प्रभारी सूरजपुर प्रकाश राठौर, निरीक्षक धर्मानंद शुक्ला, यातायात प्रभारी बृजकिशोर पाण्डेय, एसआई संतोष सिंह, एएसआई विराट विशी, ब्यासदेव राय, बिसुनदेव पैंकरा, राजाराम राठिया, प्रधान आरक्षक रामजतन सिंह, अनिल भगत, पत्रकारगण, समाज सेवी रामबिलास मित्तल सहित यातायात व पुलिस लाईन के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

slot depo 10k
slot qris
slot spadegaming
slot pg soft
habanero slot
cq9 slot
slot garansi kekalahan bebas ip