जानकारी के अभाव में हम योजनाओं का नहीं ले पाते…महेन्द्र छाबड़ा

0
Spread the love

जानकारी के अभाव में हम योजनाओं का नहीं ले पाते…महेन्द्र छाबड़ा

सूरजपुर- न्यूज़29…….राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष महेन्द्र छाबड़ा एवं छ.ग. अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह, अल्पसंख्यक आयोग के सचिव एम. आर. खान एवं सदस्य हफीज खान, उर्दू अकादमी बोर्ड के सदस्य स्माईल खान की उपस्थ्ति में जिला पंचायत के सभा कक्ष में अल्पसंख्यकों के शैक्षणिक, सामाजिक, आर्थिक विकास हेतु सेमिनार का आयोजन किया गया । जिले में अध्यक्ष के प्रथम आगमन पर विभिन्न समाज के प्रमुखों ने उनका स्वागत किया।
छत्तीसगढ़ राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष महेन्द्र छाबड़ा ने बताया कि भारत सरकार, अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध, जैन एवं पारसी समुदाय के छात्र-छात्राओं के शैक्षणिक विकास के प्रयासों को प्रोत्साहित करने तथा शिक्षा के लिए पड़ने वाले आर्थिक भार को कम करने के उद्देश्य से चालू किये गये योजनाओं के बारे में बताया। जिसमें प्री-मैट्रिक, मैट्रिकोत्तर तथा मेरिट कम मिन्स आधारित छात्रवृत्ति शामिल है। महेंद्र छाबड़ा ने बताया कि इन सभी प्रकार की छात्रवृतियों का लाभ हमें लेने की आवश्यकता है। छात्रवृत्ति का लाभ लेकर उच्च पदों पर प्रतिनिधित्व बढ़ाने व कामयाब बनने के लिए निःशुल्क कोचिंग की सुविधा दिया जा रहा उसका लाभ जिले के विद्यार्थी अवश्य ले। उन्होंने नई रोशनी, नई उड़ान, कौशल विकास के तहत् सिखो कमाओ योजना, अल्पसंख्यक प्रमाण पत्र देने के लिए मार्गदर्शी सिद्धांत एवं उसकी प्रक्रिया, पढ़ो परदेश, हमारी धरोहर एवं अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए शासन के 15 सूत्री कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी।
छ.ग. अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष भानू प्रतात सिंह ने बताया कि राज्य सरकार के मुखिया ने सभी आयोग के अध्यक्षों को जिम्मेदारी दी है कि वे ग्रामीण क्षेत्रों में जाये जहां कि जनता राजधानी रायपुर नहीं जा सकते है। उनकी समस्याओं से अवगत हो और उसका निराकरण करने का प्रयास करेें। सचिव एम.आर.खान ने बुक फोल्डर की विस्तृत जानकारी दी। वही सदस्य हफीज खान ने मांग तथा प्रस्ताव के जितने भी आवेदन प्राप्त हुए है उनका निराकरण करने आश्वासन दिया।
उन्होंने प्रदाय किये हुए फोल्डर में दिये गये बुक का अध्ययन करने कहते हुए कहा कि हम जानकारी के अभाव में शासन की योजनाओं से वंचित रह जाते है। इस सेमिनार से जाने के बाद आप सभी योजनाओं की जानकारी लीजिए। और जानकारी अनुसार आवेदन कीजिए। आज लगभग सभी योजनाएं ऑनलाइन चालू हो गये। सभी के हाथ में स्मार्ट फोन है। उसका उपयोग कर योजना का लाभ ले सकते है। उन्होंने विधिवत आवेदन करने कहा। साधारण आवेदन देने में कार्यवाही नहीं हो पाती है इसलिए आवेदन के साथ नक्शा, खसरा संलग्न अवश्य करें। साथ ही जहां कहीं भी जमीन की मांग जा रही है। वह जमीन राज्य सरकार की होनी चाहिए। उन्होंने जिले के सभी समुदाय से आग्रह करते हुए कहा कि यहां के लोग बहुत अच्छे है सभी आपसी भाईचारा से रहते है। ऐसे ही हमें एक साथ मिलकर आगे बढ़ने का प्रयास करना है। जिससे हमारा शैक्षणिक, सामाजिक, आर्थिक विकास हो सके।
इस दौरान अध्यक्ष ने विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों तथा विभिन्न समुदाय से आये लोगों का प्रमाण पत्र देकर सम्मान किया। सेमिनार में मुस्लिम समाज, सिख समाज, जैन समाज, क्रिश्चियन समाज, बौद्ध समाज तथा अन्य समाज के प्रमुखों सहित प्रतिनिधि व अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

slot depo 10k
slot qris
slot spadegaming
slot pg soft
habanero slot
cq9 slot
slot garansi kekalahan bebas ip